मेरे बिषय में | About Myself

Home / About Myself

About Myself

About Myself

Name:- Manish Kumar Chaturvedi
Email:- m.pandit24@gmail.com
Mobile:- +601111322449 – |🇲🇾
Mobile:- +919554988808 – |🇮🇳

नमस्ते, मुझे अपने बारे में कुछ कहना है। कभी-कभी अपना परिचय देना कठिन होता है क्योंकि आप स्वयं को इतनी अच्छी तरह जानते हैं कि आपको नहीं पता कि शुरुआत कहाँ से करें। मुझे अपने आत्म-विवरण के माध्यम से यह देखने की कोशिश करने दें कि मेरे बारे में आपकी क्या छवि है। मुझे आशा है कि मेरे बारे में मेरा प्रभाव और मेरे बारे में आपका प्रभाव इतना अलग नहीं है। यह यहाँ जा रहा है।

यह स्वंय शिवजी द्वारा माता जगदम्बा से कही गई एक पवित्र कथा है। आप भी विस्तार पूर्वक पढ़े:
शिव-शक्ति श्रीराम मिलन (संपूर्ण भाग) 🌞

मैं अपने बारे में बहुत कुछ सीख रहा हूं कि मैं अकेला हूं, और जो मैं कर रहा हूं वह मैं क्या कर रहा हूं।
और मेरा जीवन आदर्श वाक्य है ‘अपना सर्वश्रेष्ठ करो, ताकि मैं किसी भी चीज़ के लिए खुद को दोष न दे सकूं।

मैं एक ऐसा व्यक्ति हूं जो जीवन के हर पहलू के बारे में सकारात्मक है। ऐसी कई चीजें हैं जो मुझे करना, देखना और अनुभव करना पसंद है। मुझे पढ़ना पसंद है, मुझे लिखना पसंद है; मुझे सोचना पसंद है, मुझे सपने देखना पसंद है; मुझे बात करना पसंद है, मुझे सुनना पसंद है। मुझे सुबह का सूर्योदय देखना अच्छा लगता है, मुझे रात में चांदनी देखना अच्छा लगता है; मुझे अपने चेहरे पर बहने वाले संगीत को महसूस करना अच्छा लगता है, मुझे समुद्र से आने वाली हवा को सूंघना अच्छा लगता है। मुझे आसमान में बादलों को खाली दिमाग से देखना अच्छा लगता है, जब मैं आधी रात को सो नहीं पाता तो मुझे विचार प्रयोग करना अच्छा लगता है। मुझे वसंत में फूल, गर्मियों में बारिश, शरद ऋतु में पत्ते और सर्दियों में बर्फ पसंद है। मुझे जल्दी सोना पसंद है, मुझे देर से उठना पसंद है; मुझे अकेले रहना पसंद है, मुझे लोगों से घिरा रहना पसंद है। मुझे देश की शांति पसंद है, मुझे महानगर का शोर पसंद है; मुझे हिन्दुस्तान में कई खूबसूरत झील पसंद है। मुझे स्वादिष्ट भोजन और आरामदायक जूते पसंद हैं; मुझे अच्छी किताबें और रोमांटिक फिल्में पसंद हैं। मुझे जमीन और प्रकृति पसंद है, मुझे लोग पसंद हैं। और, मुझे हंसना पसंद है।

Hey, I have to say something about myself. Sometimes it is hard to introduce yourself because you know yourself so well that you do not know where to start with. Let me give a try to see what kind of image you have about me through my self-description. I hope that my impression about myself and your impression about me are not so different. Here it goes.

I’m learning a lot about myself being alone, and doing what I’m doing.
And My life motto is ‘Do my best, so that I can’t blame myself for anything.

I am a person who is positive about every aspect of life. There are many things I like to do, to see, and to experience. I like to read, I like to write; I like to think, I like to dream; I like to talk, I like to listen. I like to see the sunrise in the morning, I like to see the moonlight at night; I like to feel the music flowing on my face, I like to smell the wind coming from the ocean. I like to look at the clouds in the sky with a blank mind, I like to do thought experiment when I cannot sleep in the middle of the night. I like flowers in spring, rain in summer, leaves in autumn, and snow in winter. I like to sleep early, I like to get up late; I like to be alone, I like to be surrounded by people. I like country’s peace, I like metropolis’ noise; I like the beautiful lake in Hindustan. I like delicious food and comfortable shoes; I like good books and romantic movies. I like the land and the nature, I like people. And, I like to laugh.

Thank You So Much.  Manish Kumar Chaturvedi

Manish Kumar Chaturvedi
📧 Email Us – 🌐
📞 Call Us For – |🇲🇾
📞 Call Us For – |🇮🇳
📩 WhatsApp – |🇲🇾
📩 WhatsApp – |🇮🇳

अपना बिचार व्यक्त करें।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.