How To Disable Copy Paste And Right Click In Hindi

How To Disable Copy Paste क्या होगा अगर कोई आपकी सामग्री की प्रतिलिपि बनाता है? सामग्री को एक-क्लिक कॉपी-पेस्ट से बचाने के लिए, आप राइट-क्लिक अक्षम कर सकते हैं और वेबसाइट डेटा की सुरक्षा कर सकते हैं।

Read more

How To Redirect To Multiple Websites With Using JavaScript?

Redirect To Multiple Websites तब होता है जब पता बार में कोई वेब पता टाइप करने पर विज़िटर टाइप की गई वेबसाइट से भिन्न किसी अन्य वेबसाइट (या URL) पर भेजा जाता है।

Read more

वाल्मीकि रामायण- बालकाण्ड सर्ग- ४

महर्षि वाल्मीकि का चौबीस हजार श्लोकों से युक्त रामायणकाव्य का निर्माण कर लव-कुशको पढ़ाना, लव और कुश का अयोध्या में श्रीराम द्वारा सम्मानित हो रामदरबार में रामायण गान सुनाना।

Read more

महर्षि दुर्वासा कथा

ऋषि दुर्वासा सतयुग, त्रेता एवं द्वापर तीनों युगों में मौजूद थे। पुराणों के अध्ययन से पता चलता है कि वशिष्ठ, अत्रि, विश्वामित्र, दुर्वासा, अश्वत्थामा, राजा बलि, हनुमान, विभीषण, कृपाचार्य, परशुराम, मार्कण्डेय ऋषि, वेद व्यास और जामवन्त आदि कई ऋषि, मुनि और देवता हुए हैं जिनका जिक्र सभी युगों में पाया जाता है।

Read more

भगवान परशुराम सम्पूर्ण कथा

भगवान परशुराम का जन्म ब्राह्मण कुल में हुआ था। उनके पिता ब्राह्मण जमदग्नि तथा माता क्षत्रिय रेणुका थी। इसलिये उनके अंदर ब्राह्मण तथा क्षत्रिय दोनों के गुण थे। उनका बचपन में नाम राम रखा गया था किंतु भगवान शिव से प्राप्त अस्त्र परशु/कुल्हाड़ी के कारण उन्हें परशुराम के नाम से जाना जाने लगा। वर्तमान में उनका जन्मस्थल मध्य प्रदेश राज्य के इंदौर में जनापाव नामक पहाड़ियां है।

Read more

४. विराटपर्व- महाभारत

विराट पर्व में अज्ञातवास की अवधि में विराट नगर में रहने के लिए गुप्तमन्त्रणा, धौम्य द्वारा उचित आचरण का निर्देश, युधिष्ठिर द्वारा भावी कार्यक्रम का निर्देश, कौरवों द्वारा विराट की गायों का हरण, पाण्डवों का कौरव-सेना से युद्ध, अर्जुन द्वारा विशेष रूप से युद्ध और कौरवों की पराजय, अर्जुन और कुमार उत्तर का लौटकर विराट की सभा में आना, विराट का युधिष्ठिरादि पाण्डवों से परिचय तथा अर्जुन द्वारा उत्तरा को पुत्रवधू के रूप में स्वीकार करना वर्णित है।

Read more

वाल्मीकि रामायण- बालकाण्ड सर्ग- २

रामायण काव्य का उपक्रम- तमसा के तटपर क्रौञ्चवध से संतप्त हुए महर्षि वाल्मीकि के शोक का श्लोक-रूप में प्रकट होना तथा ब्रह्माजी का उन्हें रामचरित्रमय काव्य के निर्माण का आदेश देना

Read more

जामवंत कथा

।मुख पृष्ठ।।पोस्ट।।जामवंत कथा। जामवंत कथा प्राचीन काल में इंद्र पुत्र, सूर्य पुत्र, चंद्र पुत्र, पवन पुत्र, वरुण पुत्र, ‍अग्नि पुत्र

Read more

नल नील कथा

 मुख पृष्ठ  पोस्ट  नल नील कथा  नल नील कथा हम भारतीय अक्सर हमारे ग्रंथ और उनमे घटी घटनाओ को केवल धार्मिक महत्ता

Read more

What is The Morning Remembrance Mantra | प्रातः स्मरण मंत्र

क्या है प्रतिदिन प्रातः स्मरण मंत्र और क्यो है आवश्यक ।मुख पृष्ठ।।पोस्ट।।प्रतिदिन प्रातः स्मरण मंत्र। श्री दुर्गा सप्तशती जिसमें माँ

Read more